A

Saturday, 30 November 2013

विश्‍व के अजब गजब शॉपिंग मॉल्‍स

कहा जाता है कि शहर किसी भी देश की आर्थिक प्रगति के इंजन होते हैं। एक देश की अर्थव्‍यवस्‍था मुख्‍यत: शहरों में चलने वाले उद्योगों से होती है। पिछले कुछ समय में भारत में भी शॉपिंग मॉल्‍स की संख्‍या काफी तेजी से बढ़ रही है। आज दुनिया का हर बड़ा ब्रांड भारत में देखा जा सकता है। जो कि दर्शाता है कि पिछले 20 बर्षों में भारत की अर्थव्‍यवस्‍था पहले की अपेक्षा मजबूत हुई है। अगर आंकड़ों की मानें तो आज भारत में लगभग 35 करोड़ मध्‍यम वर्ग हैं। जिससे कि हर बड़े देश की नजर यहां के बाजार पर है। ऐसे में दुनिया भर के ब्रांड चाहते हैं कि वह भारत में अपनी उपस्थिति दर्ज करवायें। अगर विश्‍व की बात करें तो चीन ने पिछले कुछ दशकों में अविश्‍वसनीय आर्थिक प्रगति की है। इसे हम इस तरह से भी समझ सकते हैं कि विश्‍व के चंद कुछ सबसे बड़े शॉपिंग माल्‍स चीन में है। चीन ने अपनी आर्थिक प्रगति से दुनिया भर का ध्‍यान अपनी ओर आकर्षित किया है। तस्‍वीरों में देखें दुनिया के कुछ सबसे बड़े शॉपिंग मॉल्‍स की तस्‍वीरें- 

Mall of the Emirates - दुबई में अभी जल्‍द ही लांच होने वाला शॉपिंग मॉल लोगों के लिए एक आकर्षण का केंद्र बन गया है। इस मॉल में थियेटर, आर्ट सेंटर और चौदह स्‍क्रीन वाले सिनेमा के अलावा काफी कुछ है।



तियानजिन - यह चीन के तियांनजिन शहर का एक बड़ा मॉल है जो कि 5,30,000 स्‍क्‍वायर मीटर में फैला हुआ है।


 

द ग्रांड कैनाल शॉप्‍स (लॉस वेगास) - यह पांच लाख स्‍कावयर फीट में फैला हुआ है। जिसमें कैसिनो और विश्‍व प्रसिद्ध होटलों की शाखाएं हैं।



मॉल आफ इमिरे‍ट्स - एक शॉपिंग रेसार्ट है जो कि 2,23, 000 स्‍क्‍वायर क्षेत्र में फैला हुआ है। जिसमें मनोरंजन, लक्‍जरी और शॉपिंग की सुविधाएं हैं।




डेलियन - चीन में आर्थिक प्रगति होने के साथ ही शॉपिंग मॉल्‍स की संख्‍या बढ़ती जा रही है। बढ़ते रोजगार और चीन में युवाओं की बड़ी जनसंख्‍या के कारण मॉल कल्‍चर काफी लोकप्रिय है।




http://rajanishdixit.blogspot.in